DiscoverPuliyabaazi
Puliyabaazi

Puliyabaazi

Author: IVM Podcasts

Subscribed: 565Played: 1,930
Share

Description

This Hindi Podcast brings to you in-depth conversations on politics, public policy, technology, philosophy and pretty much everything that is interesting. Presented by tech entrepreneur Saurabh Chandra and public policy researcher Pranay Kotasthane, the show features conversations with experts in a casual yet thoughtful manner.
24 Episodes
Reverse
Ep. 24: धरती के बर्फीले छोरों से कहानी Climate Change की
जलवायु परिवर्तन (climate change) के भीषण प्रभावों पर आंकड़े तो स्पष्ट हैं लेकिन फिर भी हम और हमारी सरकारें इस वैश्विक समस्या को गंभीरता से नहीं ले रहे | तो इस पुलियाबाज़ी में हमने सीधे बात की ऐसे क्लाइमेट सेनानी से जो क्लाइमेट चेंज के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए धरती के दोनों बर्फीले ध्रुवों तक ही पहुँच गए | सुनिए हमारी पुलियाबाज़ी राजा कार्तिकेय से जिन्होंने एक साल के भीतर ही अंटार्कटिक और आर्कटिक ध्रुवों का दौरा किया | पेशे से राजा सयुंक्त राष्ट्र में राजनैतिक अफ़सर है और उनकी अपनी कहानी भी बड़ी दिलचस्प है | उन्होंने समझाया कि आज के क्लाइमेट में बदलाव का कारण भले ही पश्चिमी देश हो पर इसका भारत जैसे देशों पर गहरा नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा | न सिर्फ तटवर्ती इलाक़े बल्कि भारत के अंदरूनी उत्तरी भाग भी इससे बदल जाएंगे | इसीलिए हमारे समाज और सरकारों को इस समस्या का सामना करने की तैयारी आज करनी होगी | तो क्या है वह कदम, जानने के लिए शामिल हो जाइये इस पुलियाबाज़ी में |
Ep. 23: Arthashashtra Part 2: Foreign Policy कैसी होनी चाहिए?
Real estate से लेकर business advice तक, कौटिल्य नीति को बिना सिर पैर उपयोग करने की होड़ लगी है आजकल | अर्थशास्त्र को ignore करना तो ग़लत है ही, पर उसे ग़लत समझना और भी हानिकारक है | तो कौटिल्य अर्थशास्त्र से जुड़ी कई ग़लतफ़हमियों को ठीक करने के लिए हमने की पुलियाबाज़ी कजरी कमल से जो कि ‘अर्थशास्त्र और Indian Strategic Culture’ पर PhD कर रही हैं हैदराबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय से | कजरी तक्षशिला इंस्टीटूशन के Graduate certificate in Strategic Studies में ‘अर्थशास्त्र और भारतीय विदेश नीति’ course पढ़ाती है | यह पुलियाबाज़ी दो भागों में है | पहले भाग में सुनिए चर्चा अर्थशास्त्र के उद्देश्य और मूलतत्वों पर | दूसरे एपिसोड में सुनिए कि चाणक्य विदेश नीति के बारे में क्या सिखाते है |
Ep. 22: Arthashashtra Part 1: साम, दाम, भेद, दंड से परे
Real estate से लेकर business advice तक, कौटिल्य नीति को बिना सिर पैर उपयोग करने की होड़ लगी है आजकल | अर्थशास्त्र को ignore करना तो ग़लत है ही, पर उसे ग़लत समझना और भी हानिकारक है | तो कौटिल्य अर्थशास्त्र से जुड़ी कई ग़लतफ़हमियों को ठीक करने के लिए हमने की पुलियाबाज़ी कजरी कमल से जो कि ‘अर्थशास्त्र और Indian Strategic Culture’ पर PhD कर रही हैं हैदराबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय से | कजरी तक्षशिला इंस्टीटूशन के Graduate certificate in Strategic Studies में ‘अर्थशास्त्र और भारतीय विदेश नीति’ course पढ़ाती है | यह पुलियाबाज़ी दो भागों में है | पहले भाग में सुनिए चर्चा अर्थशास्त्र के उद्देश्य और मूलतत्वों पर | दुसरे एपिसोड में सुनिए कि चाणक्य विदेश नीति के बारे में क्या सिखाते है |
Ep. 20: परमाणु हथियार:इस ब्रह्मास्त्र से कैसे बचें?
इस साल के शुरू होते ही अमरीकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने एक ट्वीट में उत्तर कोरिया को चेताया था कि अमरीका के परमाणु हथियार उत्तर कोरिया के मुक़ाबले कई ज़्यादा प्रभावशाली है | इस एक ट्वीट से ही सारी दुनिया काँप गयी थी | तो इस पुलियाबाज़ी में हमने परमाणु हथियार और उनकी राजनीति पर ग़ौर किया लेफ्टिनेंट जनरल प्रकाश मेनन के साथ | जनरल मेनन ४० साल सैन्य विषयों पर काम कर चुके है | उन्हें परम विशिष्ट सेवा मेडल सहित कई पुरस्कारों से नवाज़ा गया है | आजकल वे तक्षशिला इंस्टीट्नयूशन में स्ट्रैटिजिक नीति के बुनियादी सिद्धांत सिखाते है | जनरल मेनन की किताब The Strategy Trap भारत, पाकिस्तान और चीन की परमाणु नीतियों का विश्लेषण करती है |
Ep. 17: मिलिट्री-जिहादी कॉम्प्लेक्स: पाकिस्तान का दूसरा चेहरा
नवजोत सिंह सिद्धू की झप्पी ने बड़ा बवाल उठा दिया भारत में | तो इस बार की पुलियाबाज़ी पाकिस्तान के मिलिट्री-जिहादी कॉम्प्लेक्स पर | ऐसा क्यों कि भारत-पाकिस्तान के रिश्ते सुधारने की कोई कोशिश के शुरू होते ही आतंकवादी हमले उस प्रक्रिया को विफल कर देते हैं? हमारा दावा है कि इस प्रकरण को समझने के लिए हमें जानना होगा कि पाकिस्तान में एक नहीं दो हुकूमतें है ! एक तो है उनकी सिविलियन सरकार और दूसरा - मिलिट्री-जिहादी कॉम्प्लेक्स (MJC) | कौनसी बला है यह MJC और भारत को इसका सामना कैसे करना चाहिए, जाने इस अंक में | इस विषय पर और जानने के लिए पढ़े यह पेपर: The Other Pakistan: Understanding the Military-Jihadi Complex अगर आपको यह शो पसंद आया तो ऐसे अन्य शो सुनने के लिए IVM Podcast App डाउनलोड कीजिये एंड्राइड: https://goo.gl/tGYdU1 और iOS: https://goo.gl/sZSTU5 पर
Ep. 15: एक डॉक्टर और
भारत में हर 1668 लोगों के लिए सिर्फ एक डॉक्टर है । इस अभाव के बावजूद मेडिकल कॉलेजों में सीटें इस साल घटा देने का कारण क्या है? राज्य और केंद्र सरकार क्या कर सकती हैं अच्छे डॉक्टरों की संख्या में इज़ाफ़ा करने के लिए, जानिए इस एपिसोड में। इस विषय पर हमारे सह-पुलियाबाज़ है संबित दाश(https://twitter.com/sambit_dash?lang=en) जो मेलाका मणिपाल मेडिकल कॉलेज में लेक्चरर है। संबित के मेडिकल शिक्षा पर लेख Mint(https://www.livemint.com/Education/MkZvFhKf39vIbKXmlDEfwK/Is-NEXT-the-panacea-for-medical-education-woes.html)और EPW(https://www.epw.in/journal/2017/52/commentary/whatever-next.html) में पढ़िए। अगर आपको यह शो पसंद आया तो ऐसे अन्य शो सुनने के लिए IVM Podcast App डाउनलोड कीजिये एंड्राइड: https://goo.gl/tGYdU1 और iOS: https://goo.gl/sZSTU5 पर
loading
Comments (9)

Asha

Eye-opening! I wasn't aware of the security risks of climate change. Good and engaging conversation overall.

Dec 5th
Reply

Puliyabaazi Hindi Podcast

Asha thanks Asha

Dec 8th
Reply

Hemant Chandak

There are not many hindi podcasts around. Glad to find this one, have been a regular listener since 1st podcast and continue to like the discussions and guests who come for a chat. It encompasses range of issues affecting us, and two knowledgeable hosts with their own diverse experiences, add lot of value to the discussions. Keep it up guys!

Nov 30th
Reply

Puliyabaazi Hindi Podcast

Hemant Chandak thanks a lot. Keep listening and spread the word! :)

Dec 8th
Reply

Asha

I listened to the episodes on Arthashastra and found the insights on foreign policy and politics very interesting. The conversation was easy to follow and understand.

Nov 26th
Reply

Vinayak Joshi

what a stupid suggestion at 44m mark! on one hand you convey that the use of MPs and MLAs for getting work done and problems solved is actually incorrect and on the other hand you suggest that the mplad funds should be converted into funds for managing offices of MPs. these offices are needed only because people come to the MPs to get their problems solved. so you want to encourage this thing which you have termed as wrong?

Sep 30th
Reply

Puliyabaazi Hindi Podcast

Vinayak Joshi Thanks for your comment, Vinayak. Either you misunderstood or perhaps we weren't clear enough. The argument was that the funds should be made available for legislative research in MP/MLA offices. That was the big need identified in the episode.

Oct 25th
Reply

Anuj Srivastava

bahot hi umda karykram hai. Great work

May 30th
Reply

Puliyabaazi Hindi Podcast

Anuj Srivastava glad you liked it. Please do spread the word. :-)

Jun 2nd
Reply
loading
Download from Google Play
Download from App Store