DiscoverRaah – A Career Podcast
Raah – A Career Podcast
Claim Ownership

Raah – A Career Podcast

Author: Suno India

Subscribed: 181Played: 1,215
Share

Description

‘राह – एक करियर पॉडकास्ट ‘, सुनो इंडिया की एक हिंदी पॉडकास्ट श्रृंखला है, जिसके माध्यम से हम हमारे देश में उपलब्ध उन् करियर विकल्पों के बारे में अवगत करवाते हे जिनके बारे में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के स्टूडेंट्स को शायद जानकारी नहीं हे।
वैसे भी 120 करोड़ आबादी वाले देश में, जंहा इतनी विविधता है, वहां हम एक ही तरह के विकल्पों से सभी को रोज़गार नहीं उपलब्ध करवा सकते और हमे अन्य विकल्पों की तलाश करने की आवश्यकता है। इस पॉडकास्ट के माध्यम से, हम उन करियर विकल्पों पर जागरूकता बढ़ाने की उम्मीद करते हैं जो समाज में लोकप्रिय करियर से विभिन्न हैं।

हम आपको इन करियर विकल्पों में मिलने वाले वेतन, भविष्य की संभावनाओं के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले कुछ सवालों के जवाबों से भी अवगत करवाने की कोशिश करेंगे। इसी के साथ हम इन उद्योगों के विशेषज्ञों के अलावा इनमे काम कर रहे पेशेवरों के जीवंत अनुभवों पर भी प्रकाश डालेंगे।

(‘राह – A Career Podcast’ is a Hindi podcast series by Suno India, which will highlight different career options from industry domains away from the norm.

In a country with 1.2 billion population, we don’t have a one-size-fits-all solution and need to look for other options. Through this podcast, we hope to raise awareness of the various career options that are available for one beyond the usual. In this series, we will bring you answers to some frequently asked questions regarding salary, career prospects among others.

Apart from bringing voices of industry experts, we will also highlight lived experiences of professionals.) For more stories like this, tune into http://www.sunoindia.in
22 Episodes
Reverse
स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में Venue Management, Stadium Infrastructure & Design, Tournament Planning & Operations, Safety & Security से लेके TV & Broadcast Operations जैसे क्षेत्र सम्मिलित हैं। राह के इस एपिसोड में होस्ट तरुण निर्वाण, आकृति मेहरोत्रा ​​जो की एक media and communication विशेषज्ञ हैं, और संदीप मांचा, जो एक खेल प्रबंधन सलाहकार हैं से बात की। आकृति और संदीप भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय खेल निकायों के साथ काम कर रहे हैं जिनमे FIFA भी शामिल हे। (Sport management is the field of business dealing with sports and recreation. It includes specialized areas like Venue Management, Stadium Infrastructure & Design, Tournament Planning & Operations, Safety & Security and TV & Broadcast Operations and many more. In this episode host Tarun Nirwan speaks with Aakriti Mehrotra, who works as a media and communication specialist, and Sandeep Mancha, who works as a sports management consultant. Aakriti and Sandeep are working with Indian and international sports bodies, including FIFA.) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
Visual Arts में पेंटिंग, ड्राइंग, प्रिंटमेकिंग, मूर्तिकला, सिरेमिक, फोटोग्राफी, वीडियो, फिल्म निर्माण, डिजाइन, शिल्प और वास्तुकला जैसे कला के कई रूप सम्मिलित हैं। भारत में, यह एक बढ़ता हुआ क्षेत्र है और बड़ी संख्या में रोजगार प्रदान कर सकता है। इस क्षेत्र को बेहतर ढंग से समझने के लिए राह के इस कड़ी में, होस्ट तरुण निर्वाण ने प्रियंका कुमार से बात की, जो मैरीलैंड इंस्टीट्यूट कॉलेज ऑफ आर्ट में सहायक प्रोफेसर के रूप में काम कर रही हैं और एक freelance Illustrator के तौर पे भी काम करती हैं। (The visual arts are art forms that create works that are primarily visual in nature, such as ceramics, drawing, painting, sculpture, printmaking, design, crafts, photography, video, film making and architecture. In India, it is a growing field in terms of its market size and can provide large employment. In this episode, host Tarun Nirwan speaks with Priyanka Kumar, who works as an adjunct professor at Maryland Institute College of Art and doing her freelance illustration work.) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
हमारे शहरों की हर इमारत और संरचना अपनी ही एक कहानी बयां करती है, चाहे वो ताजमहल हो या हवामहल या फिर मेट्रो सिटीज में बने बड़े बड़े माल्स। और इन कहानियों को वास्तुकारों और इंटीरियर डिजाइनरों जैसे पेशेवरों द्वारा इतना अद्वितीय और मनमोहक बनाया जाता है। राह की इस कड़ी में, होस्ट तरुण निर्वाण ने अनुज कुशवंशी जो एक लाइसेंस प्राप्त वास्तुकार हैं और Rove स्टूडियो, जो दिल्ली में स्तिथ एक Architect and Interior design फर्म हे, के संस्थापक हैं और श्रेया गुप्ता जो अनुज के साथ उनकी फर्म में काम करने वाली एक वास्तुकार हैं से इन् क्षेत्रों को समझने की कोशिश की और जानने की कोशिश की कैसे इन व्यवसायों में एक सफल करियर बनाया जा सकता हे। (Every building and structure in our cities tell a story. And these stories are made unique by professionals like architects and interior designers. But very often, people get confused about these two professions. In this episode of Raah, Host Tarun Nirwan explores these professions with Anuj Kushwanshi, a licensed architect and founder of Rove Studio, an architectural and interior design firm, and Shreya Gupta, an architect working with Anuj. Anuj and Shreya explain these terms and what it takes to make a successful career in these professions.) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
इंजीनियरिंग करके भारत के सबसे पुराने और मशहूर रॉक बैंड Indian Ocean में प्रमुख गिटारवादक बनने तक का सफर निखिल राव के लिए अपने सपनो को जीने की तरह हे। राह की इस कड़ी में, होस्ट तरुण निर्वाण, निखिल राव के साथ बात करते हैं, की कैसे उन्होंने खुद ही गिटार सिख के भारत के सबसे मशहूर रॉक बैंड Indian Ocean में कैसे शामिल हुए। इस कड़ी में, निखिल ने भारतीय संगीत उद्योग के विभिन्न पहलुओं पर भी प्रकाश डाला हे और नवोदित संगीतकारों के लिए अपना अनुभव और सलाह भी साझा की हे । (From being an engineer to becoming the lead guitarist in one of India's oldest rock band, Nikhil Rao is living his dream. In this episode of Raah, host Tarun Nirwan speaks with Nikhil Rao, about his journey of being a self-taught musician to landing one of the biggest gigs- being a part of Indian ocean. In this episode, he also highlights different facets of the Indian music industry & shares his advice for budding and aspiring musicians.) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
भारत देश पुरे विश्व में फिल्मों के निर्माण और उनके वितरण मामले में दुनिया का सबसे बड़ा फिल्म उद्योग हे।भारतीय फिल्म उद्योग की बात करें तो 2019 में ये 100 बिलियन (यूएस $ 1.43 बिलियन) तक पहुंच गया था। राह एक करियर पॉडकास्ट के इस कड़ी में, हमने दिल्ली के क्राफ्ट फिल्म स्कूल के निदेशक, श्री नरेश शर्मा से  इस क्षेत्र में अभिनेता और अभिनेत्री बनने के अलावा उपलब्ध विभिन्न करियर विकल्पों को समझने की कोशिश की| (India is world’s largest film industry in terms of tickets sold and the number of films made. The Indian film industry reached INR 100 billion (US$ 1.43 billion) in 2019. In this episode, we spoke to Naresh Sharma, Director of Craft Film School, Delhi, to understand the different career options available in this industry apart from being an actor and actress.) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
भारत की समृद्ध सांस्कृतिक और ऐतिहासिक विरासत, पारिस्थितिकी में विविधता और देश भर में फैले प्राकृतिक सौंदर्य के स्थानों के कारण यात्रा और पर्यटन के क्षेत्र में रोज़गार और व्यवसाय के लिए असीम सम्भावनएं हैं।  वित्तीय वर्ष 2019/20 में, भारत में पर्यटन क्षेत्र में 3.9 करोड़ नौकरियां सृजित की गईं; जो की देश में कुल रोजगार का 8.0% था। राह एक करियर पॉडकास्ट की इस कड़ी में, हमने जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में पर्यटन और आतिथ्य प्रबंधन विभाग के प्रोफेसर निमित रंजन चौधरी से इस क्षेत्र में विभिन्न करियर और व्यवसाय के अवसरों को समझने के लिए बात की। (Tourism in India has significant potential considering the rich cultural and historical heritage, variety in ecology, terrains and places of natural beauty spread across the country.  In FY20, 39 million jobs were created in India’s tourism sector; this accounted for 8.0% of the total employment in the country. In this episode, we spoke to Professor Nimit Ranjan Chowdhary, Department of Tourism and Hospitality Management at Jamia Millia Islamia University, to understand the different career opportunities in this sector.) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
भारतीय पर्यटन और आतिथ्य उद्योग भारत में सबसे बड़े रोजगार क्षेत्रों में से एक है। वित्तीय वर्ष 2019-20 में, भारत के पर्यटन क्षेत्र में 39 मिलियन नौकरियां सृजित की गईं जो की देश में कुल रोजगार का 8.0% था। आतिथ्य या होटल प्रबंधन में एक पेशेवर डिग्री उद्योग को समझने में कैसे मदद करती है? इस पाठ्यक्रम के दौरान कौन से कौशल सिखाये जाते हैं? और इस उद्योग के विभिन्न जॉब प्रोफाइल क्या हैं? इन सभी सवालों के जवाब पाने के लिए, होस्ट तरुण निर्वाण ने एक युवा उद्यमी आदित्य बसु से बात की, जिन्होंने एक प्रबंधन प्रशिक्षु के रूप में अपना करियर शुरू किया और वर्तमान में अपना खुद का बिज़नेस चला रहे हैं। (The Indian tourism and hospitality industry is one of the largest employment sectors in India. In the financial year 2019-20, 39 million jobs were created in India’s tourism sector.  This accounted for 8% of the total employment in the country.  How does a professional degree in hospitality or hotel management help in understanding the industry? What courses can one pursue? And what are the different job profiles this industry can offer? To get the answers to all these questions, host Tarun Nirwan talks to Aditya Basu, a young entrepreneur who started his career as a management trainee.) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
फरवरी में प्रकाशित ऑर्गेनिक एग्रीकल्चर रिपोर्ट 2018 के अनुसार, भारत में दुनिया में सबसे अधिक जैविक खेती करने वाले लोग रहते हैं। पुरे विश्व में जैविक खेती करने वाले लोगों के संख्या तक़रीबन 27 लाख हे, उनमे से 30 % यानि की 835,000 प्रमाणित जैविक खेती करने वाले लोग रहते हैं। हालांकि, जब प्रमाणित जैविक खेती के तहत क्षेत्र की बात आती है, तो भारत का पुरे विश्व मैं भागीदारी सिर्फ 2.59 प्रतिशत ही हे। लोगों स्वस्थ भोजन के लिए बढ़ती हुई जागरूकता को देखते हुए इस क्षेत्र में भविष्य में अपार समभावनए हैं जैविक खेती और रोजगार के अवसरों के बारे में अधिक जानने के लिए, तरुण निर्वाण ने रामंजनानुलु से बात की, जो वर्तमान में सेंटर फॉर सस्टेनेबल एग्रीकल्चर के साथ एक एक कृषि वैज्ञानिक के तौर पर काम कर रहे हैं। (India has the largest number of organic producers in the world, according to the World of Organic Agriculture Report 2018 published in February. With 835,000 certified organic producers, it is home to more than 30 per cent of total number of organic producers (2.7 million) in the world. This sector has a huge potential to grow by looking at this sector and increasing awareness about healthy food in people. To know more about organic farming and employment opportunities, Tarun Nirwan spoke to Ramanjaneyulu, an Agriculture scientist currently working with Centre for Sustainable Agriculture. ) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
भारत की लगभग 58 प्रतिशत आबादी के लिए कृषि आजीविका का प्राथमिक स्रोत है। भारतीय खाद्य उद्योग, वानिकी और मछली पालन, कृषि से जुड़े कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जिनमें हमारे देश में रोजगार सृजन करने की अपार संभावनाएं हैं। वर्तमान में, ये क्षेत्र हमारे देश में नए नए अविष्करों और स्टार्टअप्स के लिए भी पसंदीदा केंद्र बन हुए हैं। अकेले भारतीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मैं अप्रैल 2000 और मार्च 2020 के बीच विदेशी प्रत्यक्ष निवेश (FDI) के रूप में लगभग 9.98 बिलियन अमेरिकी डॉलर का निवेश हुआ है। राह की इस कड़ी में, होस्ट तरुण निर्वाण ने चौधरी चरण सिंह नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्चर मार्केटिंग (NIAM) में निदेशक के पद पर कार्यरत डॉ रमेश मित्तल जी से बात की और उनसे जानने की कोशिश की इस क्षेत्र में उपलब्ध रोज़गार के अवसरों को और उनको हासिल करने के लिए किस तरह के शिक्षण और प्रशिक्षण की जरुरत पड़ती हे। (Agriculture is the primary source of livelihood for about 58 per cent of India’s population. The Indian food industry, forestry and fishing are some of the associated fields of agriculture which too have immense potential to generate jobs in our country. Currently, these fields have also become the hotbed for innovations and startups in our country. The Indian food processing industry alone has cumulatively attracted Foreign Direct Investment (FDI) equity inflow of about US$ 9.98 billion between April 2000 and March 2020. In this episode of Raah, the host Tarun Nirwan speaks with Dr Ramesh Mittal, Director at Ch. Charan Singh National Institute of Agricultural Marketing (NIAM) who tells us more career opportunities and required education to gain employment in the sector.) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
COVID-19 महामारी ने हमारे देश की अर्थव्यवस्था को बहुत नुकसान पहुँचाया हे और हमारी शिक्षा प्रणाली सहित लगभग हर क्षेत्र में काम करने के हमारे तरीके को बदल दिया हे।  इस बीच, भारत बंद के करना भी रोजगार क्षेत्र में और गिरावट देखी गई हे । इसके अलावा COVID-19 महामारी ने हमें बिना उचित तैयारी के डिजिटल शिक्षा की ओर रुख करने के लिए मजबूर कर दिया हे। इन्ही परिस्थितयों को देखते हुए हमारे सामने ऐसे प्रश्न खड़े हो गए हैं जैसे की  क्या भारत के ग्रामीण क्षेत्र में डिजिटल शिक्षा के लिए बुनियादी ढांचा है? क्या यह ऑनलाइन शिक्षा प्रणाली हमारी पारंपरिक शिक्षा प्रणाली की तरह प्रभावी होगी? इन्ही सभी प्रशनो पर चर्चा करने के लिए, होस्ट तरुण निर्वाण ने, पेरी माहेश्वरी जो की एक प्रसिद्ध शिक्षाविद् और Career360 के संस्थापक और अध्यक्ष  हैं, से बात करते हैं। (COVID-19 pandemic threw our nation’s economy over the cliff and changed our way of working in almost every sector, including our education system. Meanwhile, India witnessed a further decline in its employment sector since the lockdown. The pandemic also forced us to shift towards digital education without proper preparation. See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
राह की इस कड़ी में, हमने National Award for the Empowerment of Persons with Disabilities in 2008′ की विजेता मधु सिंघल जी से बात की। उन्होंने हमें बताया कि कैसे वह पिछले 30 सालों से Differently Abled लोगों की सहायता कर रही है और कैसे वो 1990 से ‘टॉकिंग लाइब्रेरी’ जैसे अभिनव विचारों पर काम कर रही है। (In this episode, we bring the story of Ms Madhu Singhal, winner of the ‘National Award for the Empowerment of Persons with Disabilities in 2008’. She told us how she is supporting different abled people from the last 30 years and working on innovative ideas like ‘Talking Library’ since 90’s.) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
राह की इस कड़ी में, हमने Noida Deaf Society के प्रशिक्षकों और छात्रों से बात की और उनसे जानने की कोशिश की Persons with disabilities लोगों के लिए किस तरह के प्रशिक्षण कार्यक्रम और करियर विकल्प हमारे देश में उपलब्ध हैं। (In this episode of Raah, we spoke to Noida Deaf Society trainers and students to know more about the training programs and career options that are available for Persons with disabilities.) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
इसी कड़ी में AIIMS में बायोटेक्नोलॉजी के शोधकर्ता शिरीन शाजहाँ ने इस क्षेत्र में होने के अपने अनुभव को साझा किया और हमें यह भी बताया कि भारत में जैव प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक शोध करियर को आगे बढ़ाने में कौन सी बाधाएं आ सकती हैं। (In this episode, Shireen Shajahan, a biotechnology researcher in AIIMS shares her experience to be in this field and also tells us what obstacles one can get to pursue a research career in Biotechnology in India.) For more stories like this, you can listen to www.sunoindia.in. Also follow us on Facebook, Twitter or Instagram. See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
बढ़ती जनसंख्या का अर्थ है एक बढ़ती हुई आबादी और उच्च रोग के बोझ की संभावना। इससे पिछले कुछ दशकों में जीवन विज्ञान के क्षेत्र में अधिक शोध और विश्लेषण की आवश्यकता बढ़ी है, और इसके साथ ही मानव संसाधन की आवश्यकता भी। राह के इस एपिसोड में जैव प्रौद्योगिकी क्षेत्र के बारे में अधिक जानने के लिए, हम केतकी निखिल से बात की, जो की एक जैव रसायन पेशेवर हैं और उनसे जानने की कोशिश की उनका इस क्षेत्र का अनुभव कैसा रहा अब तक और भारत में युवाओं के लिए इस क्षेत्र में किस तरह के विकल्प उपलब्ध हैं। (A growing population means an ageing population and also possibility of high disease burden. This has led to an increased need for more research and analysis in the field of life science has been increased in the last few decades, so does the need for human resources.  To know more about this field, we talk to Ketiki Nikhil, a biochemistry professional about her experience in working in this field and career options that are available for aspiring youngsters.) For more stories like this, you can listen to www.sunoindia.in. Also follow us on Facebook, Twitter or Instagram. See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
राह के इस एपिसोड में हमने सौर ऊर्जा के क्षेत्र में करियर के अवसरों का पता लगाने और इसमें कुशल श्रमिकों की बढ़ती मांग के लिए, नीरज कुलदीप जी जो की Council on Energy, Environment and Water (CEEW) में अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में शोधकर्ता हैं से बात की। CEEW द्वारा किए गए शोध के अनुसार, इस क्षेत्र में निकट भविष्य में 3 लाख नई नौकरियां उपलब्ध होंगी लेकिन वर्तमान में इसकी मांग को पूरा करने के लिए हमारे देश में पर्याप्त कुशल श्रमशक्ति उपलब्ध नहीं हैं। (To explore the career opportunities in the solar sector and increasing demand for skilled workers in it, we reached out to Mr Neeraj Kuldeep, Programme Lead of Renewable Energy in Council on Energy, Environment and Water (CEEW) According to research carried out by CEEW, 3 lac new jobs will be available in this sector in the near future but not enough skilled manpower are currently available to fill the demand. ) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
इस कड़ी में, हम सुनेगे श्रीकांत बोहरा जी को, जो की Akshay Power के Co – Founder हैं की उनका अनुभव भारत में बढ़ते हुए सौर ऊर्जा की क्षेत्र में कैसा रहा और उन्होंने अपने गृह क्षेत्र में रहकर अपना सोलर सेक्टर का स्टार्टअप कैसे शुरू किया। हम इनसे इनकी राय भी जानेंगे की इनके व्यक्तिगत और व्यावसायिक अनुभव के आधार पर क्या छात्रों को कॉलेज से निकलने के बाद किसी नौकरी की तलाश करनी चाहिए या एक व्यवसाय शुरू करना चाहिए? (In this episode, Mr Shrikant Bohra, Co-Founder, Akshay Powershares his experience that how he explored India’s energy sector and built a product to support this growing sector.  He also talks about his opinion on whether one should choose a job or become an entrepreneur right after college based on his own personal and professional experience.) See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
पर्यावरण विज्ञान के क्षेत्र में पेशेवर होना कैसा होता है और क्षेत्र में काम करने वालों के लिए भविष्य कैसा दिखता है? राह के इस एपिसोड में हमारे इन् सभी  प्रश्नों के उत्तर देने के लिए हमारे साथ हैं राकेश कमल, जो की एक जलवायु विशेषज्ञ हैं और पिछले एक दशक से ऊर्जा और जलवायु परिवर्तन के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। (How is it like to be an environmental science professional and what does the future look like for those working in the field. We asked all these questions and more to Mr Rakesh Kamal, a climate expert with over a decade of experience in the energy and climate change field from groundwork to advocacy.) For more stories like this, you can listen to www.sunoindia.in. Also follow us on Facebook, Twitter or Instagram. See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
राह की इस एपिसोड में, The Energy Resource Institute (TERI) के श्री अमित कुमार, निदेशक, सामाजिक परिवर्तन ने हमे ऊर्जा, सतत विकास और हरित कौशल सहित पर्यावरण और ऊर्जा क्षेत्र की शाखाओं में उपलब्ध नौकरियों के बारे में बताया। (In this episode of Raah, Mr Amit Kumar, Director of Social Transformation from The Energy Resource Institute (TERI) explains the range of jobs available in the environment sector branches including energy, sustainable development, and green skills.) For more stories like this, you can listen on www.sunoindia.in. Also follow us on Facebook, Twitter or Instagram. See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
इस कड़ी में, हमारे अतिथि प्रशांत पाल, PURE India ट्रस्ट के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, एक सामाजिक उद्यमी बनने की अपनी यात्रा को साझा करते हैं और अपने परिवार / समाज और आर्थिक रूप से आने वाली चुनौतियों और उन्होंने उन चुनौतियों को कैसे पार किया के बारे में बात करते हैं। (In this episode, our guest Prashant Pal, Founder and CEO of PURE India Trust shares his journey of becoming a social entrepreneur and talks about the challenges he faced from his family/society and financially and how he overcame those challenges. ) For more stories like this, you can listen on www.sunoindia.in. Also follow us on Facebook, Twitter or Instagram. See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
इस पॉडकास्ट एपिसोड में, हमने गैर सरकारी संस्थाओं (NGO) और Corporate Social Responsibility (CSR) क्षेत्र में काम करने वाले लोगों से बात की जिनमे Save The Children के रचित शर्मा और MetLife CSR  से सोनम मेहरा शामिल हैं और इनसे जानने की कोशिश कि इन्हे इस सेक्टर में काम करने के लिए क्या प्रेरित करता है। (In this podcast episode, we speak to those who are working in the development sector including non-governmental organisation (NGO) and Corporate social responsibility (CSR) field. Rachit Sharma from Save the Children and Sonam Mehra from Metlife CSR tell us what keeps them motivated to stay in the sector.) For more stories like this, you can listen on www.sunoindia.in. Also follow us on Facebook, Twitter or Instagram. See sunoindia.in/privacy-policy for privacy information.
loading
Comments (3)

Ansh Bhardwaj

good podcast... but could've have asked better questions... to be honest the expert should have answered questions better... I still don't know what he exactly does in his job

Apr 8th
Reply

Vaibhav Kumar

Good career option.

Dec 9th
Reply

Pratap Nair

Considering the massive job losses in the Indian economy so should do a podcast for people in the middle of their careers.

Sep 14th
Reply
Download from Google Play
Download from App Store